रमेश शर्मा एक बहुआयामी व्यक्तित्व वाले कंटेंट राइटर, यूटूबर, फार्मासिस्ट और पोएट रहे है। साथ में ये उदयपुर जयपुर.कॉम के फाउंडर भी है।

इन्होंने फार्मेसी क्षेत्र में मास्टर डिग्री (M Pharm) के साथ साथ कंप्यूटर (MSc Computer Science) और भारतीय इतिहास (MA Indian History) में भी मास्टर डिग्री कर रखी है।

Ramesh Sharma pharmacistVerified Ramesh Sharma

फार्मेसी क्षेत्र को मुख्य रूप से दवाओं के निर्माण, भंडारण और वितरण के लिए जाना जाता है।

हाल ही में कोरोना महामारी के बाद भारत को विश्व की फार्मेसी के रूप में अघोषित रूप से मान्यता मिली है।

इस महामारी के समय फार्मेसी क्षेत्र से जुड़े लोगों का प्रत्यक्ष और परोक्ष रूप से बहुत अधिक योगदान रहा है।

इसी फार्मेसी क्षेत्र से जुड़े हुए हैं रमेश शर्मा, जो कि पेशे से एक फार्मेसी प्रफेशनल हैं और विगत दो दशकों से फार्मेसी क्षेत्र में अध्यापन से जुड़े हुए हैं। वर्तमान में ये जयपुर के एक फार्मेसी कॉलेज में एसोसिएट प्रोफेसर के रूप में सेवारत हैं।

जैसा विदित है कि टीचिंग प्रोफेशन एक नोबल प्रोफेशन होता है और अगर टीचिंग उस क्षेत्र से जुड़ी हो जिसका सीधा सीधा संबंध हमारे जीवन से है, तो इसकी गणना थोड़ी और विशिष्ट हो जाती है।

इन्होंने फार्मेसी क्षेत्र में मास्टर डिग्री (M Pharm) के साथ साथ कंप्यूटर (MSc Computer Science) और भारतीय इतिहास (MA Indian History) में भी मास्टर डिग्री कर रखी है।

इन्होंने कंप्यूटर में पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा (PGDCA) कोर्स भी कर रखा है। होम्योपैथी में रुचि की वजह से CHMS कोर्स भी कर रखा है।

ये फार्मेसी, हेल्थकेयर, समसामयिक घटनाओं, दर्शनीय स्थलों जैसे कई विषयों पर तीन सौ से अधिक इनफॉर्मेटिव आर्टिकल्स लिखे हैं।
इन्हे कविताएं लिखने का भी शौक है और इन्होंने अब तक पच्चीस से अधिक कविताएं लिखी हैं।

इन्हे विभिन्न विषयों पर इनफॉर्मेटिव वीडियो बनाने का भी शौक है। अब तक इन्होंने तीन सौ से अधिक वीडियो बनाकर यू ट्यूब पर अपलोड किए हैं। इन विडियोज को लाखों लोगों ने देखा है।

फार्मेसी अध्यापन के साथ साथ इन्हे लिखने का भी शौक है और कंटेंट क्रिएटर के रूप में भी कार्य करते हैं।

फाउंडर: udaipurjaipur